सिक्किम राज्य

सिक्किम हिमालय की गोद में विद्यमान यह प्रदेश अप्रैल सन् 1975 में भारत के 22वें प्रदेश के रूप में भारत गणराज्य का अभिन्न अंग बना। इस प्रदेश में हिमालय पर्वत माला के कई हिममण्डित शिखर हैं। विश्व का तीसरा सबसे ऊँचा शिखर कंचनजंघा (8579 मीटर) इसी प्रदेश की सीमा पर स्थित है। कई मनोरम घाटियाँ व हिमानियाँ पर्यटकों को सहज में अपनी ओर आकर्षित करती हैं।

त्रिस्रोता (तिस्ता) यहाँ की पवित्र नदी है। इसी नदी के तट पर बंगाल प्रदेश के अन्तर्गत त्रिस्रोता नामक स्थान पर शक्ति पीठ स्थित है। यहाँ पर नाना प्रकार की वनस्पति उगती है जिसमें अर्किड जाति के सैकड़ों प्रकार के पष्प हैं। इसे वनस्पति विज्ञान-शास्त्रियों का स्वर्ग भी कहा जाता है। गंगोक इस प्रदेश की राजधानी है। सिक्किम की जनसंख्या 6,07,688 व क्षेत्रफल 7096 वर्ग कि. मी. है।

यहाँ 500 एकड़ भूमि में चाय के विस्तृत बागान हैं। चाय का निर्यात प्रमुख रूप से रूस व जर्मनी को होता है। अधिकांश जनता की जीविका कषि पर निर्भर है। बड़ी लायची की पैदावार के लिये यह भारत भर में प्रसिद्ध है। इस राज्य में 4 जिले हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *