सृजनात्मक बालक का अर्थ

Meaning of creative child

सृजनात्मकता मौलिक चिन्तन, नए प्रकार के संगठन, अलग प्रकार का चिन्तन एवं व्यवहार, पुरानी समस्याओं के नवीन समाधानों, नए सम्बन्धों का देखना अथवा व्याख्या, लोचशीलता तथा जीवन के भिन्न क्षेत्रों में नवीन दृष्टिकोण अपनाना है। सृजनकर्ता के लिए कोई भी मौलिक विचार अथवा व्याख्या सृजनात्मकता का उदाहरण है। इस प्रकार सृजनात्मकता चिन्तन, सामाजिक अन्त:क्रिया की विधियों अथवा अध्ययन, कार्य अथवा खेल में सम्भव है।

जेम्स ड्रेवर के अनुसार, “अनिवार्य रूप से किसी नई वस्तु का सृजन करना ही सृजनात्मकता है।” मनोविश्लेषणात्मक, साहचर्यवाद, अन्त:दृष्टिवाद एवं अस्तित्ववाद सिद्धान्तों का सम्बन्ध सृजनात्मकता से है।

गिलफोर्ड के अनुसार सृजनात्मकता (Creativity according to Guilford)

गिलफोर्ड ने सृजनात्मकता के निम्नलिखित तत्त्व बताए हैं

तात्कालिक स्थिति से परे जाने की योग्यता (Ability to go beyond the immediate situation)

जो व्यक्ति वर्तमान परिस्थितियों से हटकर, उससे आगे की सोचता है और अपने चिन्तन को मूर्त रूप देता है, उसमें सृजनात्मकता का गुण पाया जाता है।

ससस्था की पुतळ्यख्यिा (Statues of society)

सृजनात्मकता का एक तत्त्व समस्या की पुनर्व्याख्या है।

सामंजस्य (Harmony)

जो बालक तथा व्यक्ति असामान्य, किन्तु प्रासंगिक विचार तथा तथ्यों के साथ समन्वय स्थापित करते हैं वे सृजनात्मक कहलाते हैं।

अन्य के विचारों में परिवर्तन (Change in thoughts of others)

ऐसे व्यक्तियों में भी सृजनात्मकता विद्यमान रहती है, जो तर्क, चिन्तन तथा प्रमाण द्वारा दूसरे व्यक्तियों के विचारों में परिवर्तन कर देते हैं।

टेलर के अनुसार सृजनात्मकता (Creativity according to Taylor)

टेलर महोदय ने सृजनात्मकता के निम्नलिखित प्रकार बताए हैं

आविष्कारात्मक सृजनात्मकता (Inventive creativity)

इस प्रकार की सृजनात्मकता में आविष्कार, अन्वेषक, खोज सामग्री तथा विधियों के साथ वास्तविकता का प्रयोग करके किसी नई चीज की खोज की जाती है।

नवाचारित सृजनात्मकता (Innovative creativity)

नए और मौलिक अर्थ खोजने, नये सम्प्रत्यय देने, नई परिभाषा देने आदि से सम्बन्धित सृजनशीलता को नवाचारित सृजनशीलता कहा जाता है।

अभिव्यक्तात्मक सृजनशीलता (Expressive creativity)

इस प्रकार की सृजनात्मकता में केवल अभिव्यक्ति को महत्त्व दिया जाता है, जैसे बच्चों द्वारा की गई पेण्टिग आदि। यह एक ऐसी स्वतन्त्र अभिव्यक्ति वाली सृजनात्मकता है जिसमें कौशल, गुणात्मक स्तर और मौलिकता को महत्त्व नहीं दिया जाता।

उत्पादक सृजनात्मकता (Productive creativity)

इस प्रकार की सृजनात्मकता में कलात्मक और वैज्ञानिक वस्तुओं को पैदा करने की प्रवृत्ति को शामिल किया गया है। इस प्रकार की सृजनात्मकता में स्वतन्त्रता पर अंकुश लगाकर ही विभिन्न वस्तुएँ तैयार की जाती हैं।

आपातित सृजनशीलता (Emergency creativity)

इस प्रकार की सृजनात्मकता में आपातकाल में, अल्प समय में, तुरन्त सूझ-बूझ से किसी समस्या का नया एवं मौलिक हल खोजना, कार्य करना, विचार देना शामिल है। इसके लिए अत्यधिक उच्च दृष्टि और बौद्धिक योग्यता की आवश्यकता होती है।

सृजनात्मक बालक हेतु परीक्षण (Creative child test)

सृजनात्मकता की पहचान के लिए निरन्तरता, लोचनीयता (Flexibility), मौलिकता तथा विस्तार का मापन एवं परीक्षण किया जाता है।

सृजनात्मकता से सम्बन्धित प्रमुख परीक्षण निम्न प्रकार हैं

  • चित्रपूर्ति परीक्षणमें अपूर्ण चित्रों को पूरा करना पड़ता है।
  • त्पाद सुधार कार्य (Product improvement work)-  चूने के खिलौनों द्वारा विचारों को लेखबद्ध करके सृजनात्मकता पर बल दिया जाता है।
  • वृत्त परीक्षण (Circle test)-  इस परीक्षण में वृत्त में चित्र बनाए जाते हैं।
  • टीन के डिब्बे (Tin cans-  )खाली डिब्बों से नवीन वस्तुओं का सृजन कराया जाता है।

सृजनात्मकता का विकास (Creative development)

शिक्षक को चाहिए कि बालकों में सृजनात्मकता का विकास करने के लिए निम्नलिखित उपाय करें

  • तथ्यों का अधिगम –  समस्या को हल करने में कौन-कौन-से तथ्यों को सिखाया जाए, शिक्षक को इस बात का ध्यान रखना चाहिए
  • मौलिकता-   शिक्षक को चाहिए कि वह तथ्यों के आधार पर मौलिकता (Fundamentality) के दर्शन कराए।
  • मूल्यांकन-  बालकों में अपना मूल्यांकन स्वयं करने की  प्रवृत्ति का विकास करना चाहिए।
  • समस्या के स्तरों की पहचान-   समस्या के स्तरों को पहचानकर उसे दूर करना चाहिए।
  • जाँच-  बालकों में जाँच (Testing) करने की कुशलता का अर्जन कराया जाए।
  • पाठ्य-सहगामी क्रियाएँ- विद्यालय में बुलेटिन बोर्ड, मैग्जीन, पुस्तकालय, वाद-विवाद, खेल-कूद, स्काउटिंग, एनसीसी आदि क्रियाओं द्वारा नवीन उद्भावनाओं का विकास करना चाहिए।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *