कल्पना चावला

भारतीय मूल की प्रसिद्ध अंतरिक्ष विज्ञानी कल्पना चावला का जन्म 1 जुलाई, 1961 को करनाल में हुआ था। पंजाब इंजिनियरिंग कॉलेज, चण्डीगढ़ से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में डिग्री प्राप्त करने के पश्चात् 1982 में वह अमेरिका चली गईं। 1988 में कल्पना चावला ने अमेरिका की कॉलेरॉडो यूनिवर्सिटी से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में पी.एच.डी. की उपाधि हासिल की। इसके पश्चात् उन्होंने अमेरिका की सर्वोच्च अंतरिक्ष अनुसंधान संस्था नासा के ‘ऐमस अनुसंधान केन्द्र’ में काम करना आरंभ कर दिया।

1994 में कल्पना चावला का चयन नासा में एक अंतरिक्ष यात्री के रूप में हो गया। 1997 में नासा के ‘एस टी एस-87’ मिशन के अन्तर्गत इन्हें अन्तरिक्ष यान कोलंबिया के माध्यम से अंतरिक्ष यात्रा का अवसर प्राप्त हुआ। यह उनकी प्रथम अंतरिक्ष यात्रा थी। इस यात्रा के दौरान इनके यान ने अंतरिक्ष में पृथ्वी के चारों ओर 252 चक्कर लगाए तथा इन्होंने अंतरिक्ष विज्ञान के कई महत्त्वपूर्ण प्रयोग किए। वर्ष 2000 में इनका चयन दूसरी बार नासा के ‘एस टी एस-107’ अभियान के लिए हुआ। यह अभियान 16 जनवरी, 2003 को आरंभ हुआ तथा इनके 7 सदस्यीय दल ने 16 दिन की यात्रा के दौरान अंतरिक्ष में कुल 80 प्रयोग किए। 1 फरवरी, 2003 के दुर्भाग्यपूर्ण दिन अंतरिक्ष से धरती पर लौटते समय इनका अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। कल्पना चावला तथा इनके पति कमांडर रिक डी सहित अभियान दल के सभी सातों सदस्य मारे गए। पूरा विश्व भारत की इस बहादुर बेटी को आज भी याद करता है।

Tags: Kalpana Chawla Age, Essay on Kalpana Chawla in Hindi, Kalpana Chawla ka Janm Sthan, Kalpana Chawla ki Death

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *