हिसार शहर

Hisar City

हरियाणा का हिसार जिला प्रदेश के सबसे महत्वपूर्ण जिलों में से एक है। उत्तर भारत की सबसे पुरानी व्यवस्थित मानव सभ्यता (हड़प्पा सभ्यता) के अनेकों अवशेष इस क्षेत्र से मिले हैं। कभी इतिहास में ‘हिसार-ए-फिरोज़ा’ के नाम से प्रसिद्ध वर्तमान ‘हिसार’ सदियों से हरियाणा की सांस्कृतिक, आर्थिक तथा राजनैतिक गतिविधियों का केन्द्र रहा है।

hisar-city-map-haryana-district

हिसार जिले के रूप में स्थापना एवं परिचय (Establishment and introduction of Hisar district)

तीन दशक पूर्व हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल की कर्मभूमि रहा हिसार जिला आज अपने शैक्षणिक संस्थानों, सामरिक तथा सांस्कृतिक महत्व के कारण पूरे देश में प्रसिद्ध है। 1353 ई. में सुलतान फिरोजशाह तुगलक द्वारा ‘हिसार-ए-फिरोज़ा’ बसाए जाने से पूर्व जिले का अधिकांश क्षेत्र हांसी तथा सिरसुती (सिरसा) के इक्तों का भाग था। फिरोजशाह तुगलक के समय से राजनैतिक तथा प्रशासनिक महत्व का केन्द्र बना ‘हिसार-ए-फिरोज़ा’ हरियाणा गठन के समय 1 नवंबर, 1966 को प्रदेश का सबसे बड़ा जिला था। तत्पश्चात् हिसार जिले के एक बड़े क्षेत्र से दादरी, भिवानी, सिरसा तथा फतेहाबाद जिलों का गठन हो चुका है। जिले का कुल क्षेत्रफल 3,983 वर्ग कि.मी. है। 2016 में दादरी जिले के गठन से पूर्व भिवानी और सिरसा के उपरान्त हिसार हरियाणा का तीसरा सबसे बड़ा जिला था। वर्तमान में यह जिला हरियाणा का दूसरा सबसे बड़ा जिला है। जिले के पश्चिम में राजस्थान, दक्षिण में भिवानी, दक्षिण-पूर्व में रोहतक, पूर्व में जीन्द तथा उत्तर में फतेहाबाद जिलों की सीमाएँ लगती हैं।

जिले का प्रशासनिक परिदृश्य

जिले का जिला मुख्यालय हिसार शहर में है। हिसार में हिसार मण्डल का मुख्यालय है। यहाँ पर हिसार पुलिस रेंज का मुख्यालय भी है। जिला प्रशासन के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार जिले में कुल 275 गाँव हैं जिनमें से 272 आबाद गाँव हैं। जिले के सभी गांव पक्की सड़कों तथा विद्युत आपूर्ति से जुड़े हुए हैं। प्रशासनिक दृष्टि से हिसार जिले में चार उपमण्डल-हिसार, हांसी, बरवाला तथा नारनौंद (2016) हैं। इनमें से नारनौंद को अभी वर्ष 2016 में उपमण्डल का दर्जा मिला है।

जिले में 6 तहसील-हिसार, आदमपुर, हांसी, नारनौंद, बरवाला तथा बास (2016) हैं। इनमें से बास को 2016 में तहसील का दर्जा मिला है। हिसार जिले में तीन उपतहसील-उकलाना मण्डी, बालसमंद तथा खेड़ी जालब (2016) हैं। खेड़ी जालब को 2016 में ही उपतहसील का दर्जा दिया गया है। जिले में कुल 9 खण्ड (ब्लॉक) हैं। हिसार जिले में कुल सात विधानसभा क्षेत्र-आदमपुर, उकलाना, नारनौंद, हांसी, बरवाला, हिसार तथा नलवा हैं। हिसार लोकसभा क्षेत्र से दुष्यंत सिंह चौटाला सांसद हैं। इन्हें वर्तमान लोकसभा में देश के सबसे युवा सांसद होने का गौरव प्राप्त है।

हिसार जिले में कुल 308 ग्राम पंचायत, 30 जिला परिषद वार्ड तथा 9 पंचायत समीति हैं। हिसार शहर के उचित प्रबन्धन और स्थानीय प्रशासन को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से हिसार शहरी क्षेत्र के लिए नगर निगम की स्थापना की गई है। जिले में कुल 5 नगर हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *