वातावरण सम्बन्धी कारक

Environmental factors

वातावरण से सम्बन्धित कारकों का वर्णन निम्न प्रकार से वर्णित है

सामाजिक कारक(social factors)

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है इसलिए उस पर समाज का प्रभाव अधिक दिखाई देता है। सामाजिक व्यवस्था, रहन-सहन, परम्पराएँ, धार्मिक कृत्य, रीति-रिवाज, पारस्परिक अन्त:क्रिया और सम्बन्ध आदि बहुत-से तत्व हैं, जो मनुष्य के शारीरिक, मानसिक, एवं बौद्धिक विकास को किसी-न-किसी रूप से अवश्य प्रभावित करते हैं।

आर्थिक कारक(economic factors)

अर्थ अर्थात् धन से केवल सुविधाएँ ही नहीं प्राप्त होती हैं, बल्कि इससे पौष्टिक चीजें भी खरीदी जा सकती हैं, जिससे मनुष्य का शरीर विकसित होता है। आर्थिक वातावरण मनुष्य की बौद्धिक क्षमता को भी प्रभावित करता है। सामाजिक विकास पर भी इसका प्रभाव पड़ता है।

सांस्कृतिक कारक(Cultural factors)

धर्म और संस्कृति मनुष्य के विकास को गहरे स्तर पर प्रभावित करती हैं। हमारा खान-पान, रहन-सहन, पूजा-पाठ, संस्कार तथा आचार-विचार इत्यादि हमारी संस्कृति के अभिन्न अंग हैं। जिन संस्कृतियों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण समाहित है उनका विकास ठीक ढंग से होता है, लेकिन जहाँ अन्धविश्वास और रूढ़िवाद का समावेश है उस समाज का विकास अत्यन्त मन्द गति से होता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *